देसी शराब दुकान को बंद कराने महिलाओं ने खोला मोर्चा

जिला मुख्यालय पहुंचकर तीन गांव की महिलाओं ने कराया विरोध दर्ज शराब दुकान बंद कराने की कलेक्टर से लगाईए गुहार अकलतरा ब्लॉक के गांव तरौद और किरारी व बम्हनीडीह ब्लॉक के गांव पोडी शंकर की महिला ने शराब बंद कराने के लिए बुधवार को मोर्चा खोला दिया\ जिला मुख्यालय पहुंचकर कलेक्टर से शिकायत की गई। पोडी शंकर में संचालित देसी शराब दुकान के अन्यत्र हटाने की मांग की गई। तरौद और किरारी के महिलाओं ने तो गांव के शराब दुकान ही बंद करने की मांग की।
    शराब बंद कराने कलेक्टोरेट पहुंची तरौद और किरारी की भारती, मालती बाई, पवाराबाई, गणेशी, गोदावरी बाई ने बताया कि गांव के सब स्टैंड में अंग्रेजी शराब दुकान संचालित है। पास में स्कूल होने के वजह से स्कूली बच्चों काफी असुविधा होती है। शराब दुकान से सुबह से शाम व देर रात तक शराबियों का जमावडा रहता है। कई बार शराबियों द्वारा छात्राओं से अनर्गत बातें की जाती है, जिससे विवाद की स्थिति निर्मित हो जाती है। सब स्टैंड होने के वजह से सडक पर दिन भर लोगों का आवागमन जारी रहता है। लेकिन शराब दुकान के वजह से लोगों को यहां से गुजरने से काफी मुश्किलें होती है। कुछ शराबियों द्वारा वाहन चालाकों को बेवजह रोककर परेशान किया जाता है। कई बार तो शराबी नशे की लत में राहगीरों से पैसे की मांग भी करते है। पैसे नही देने पर उसे विवाद करने लगते है। महिला ने बताया कि गांव में शराब दुकान होने से गांव का माहौल दिन ब दिन खराब होते जा रहा है। शिकायत के बावजूत शासन- प्रशासन द्वारा शराब की दुकान नही हटाई गई है। तरौद व किरारी की महिलाओं ने कलेक्टर से शीघ्र ही शराब दुकान बंद करने की मांग की है।

Wednesday the 16th. Affiliate Marketing. © janjgirlive.com
Copyright 2012

©